पौड़ी के एक गांव के क्वारंटीन सेंटर में दारू पार्टी, प्रवासियों के साथ चल रहा जश्न

पहाड़ के गांवांे का हाल भी अजब है। यहा जो हो जाय वह कम ही है। कोरोना संक्रमण के खतरों के चलते प्रवासी अपने घरों को लौट रहे हैं। अच्छी बात है। संकट की इस घड़ी में वह अपने घर नहीं आयेंगे तो कहां जायेंगे। जो लोग उनका गांव आने पर विरोध कर रहे हैं वह गलत है। ऐसा करने वाले लोग संवेदनहीन तो हैं ही उन पर कार्रवाई भी होनी चाहिए। बाहर से आने वालों के लिए मेडिकल परीक्षण और क्वारंटीन की व्यवस्था है। पंचायत प्रधानों को उनकी देखरेख का जिम्मा है। लेकिन यहां एक मामला ऐसा सामने आया है जहां प्रधान साहब स्वयं ही क्वारंटीन हुए प्रवासियों के साथ दारू पार्टी मना रहे हैं।

जागरूक गांव वालों ने शिकायत की तो प्रधान पति महोदय ग्रामीणों पर ही गरम हो गए। बोले जो करना करो। जहां शिकायत करनी है करो। अब ग्रामीणों ने इस संबंध में संबंधित पटवारी से शिकायत की है। मामला बीरोंखाल ब्लाक के बिरगणा गांव का है। सामाजिक कार्यकर्ता वरिष्ठ पत्रकार महिपाल पटवाल ने इस मामले को सोशल मीडिया पर भी उठाया है। उम्मीद है इस तरह की अव्यवस्थाओं पर प्रशासन लगाम डालेगा।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *