सीएम त्रिवेंद्र रावत के बारे में सोशल मीडियो पर अफवाह फैलाने पर 04 गिरफ्तार, तीन फरार

कैंट कोतवाली पुलिस ने सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के बारे अफवाह फैलने के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में फरार तीन युवकों की तलाश में पुलिस टीमें दबिश दे रही है।

कैंट कोतवाली में छह मई को सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को लेकर अफवाह फैलाने और आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में पंकज ढौंडियाल पुत्र गोविंद राम निवासी ग्राम गुरफली तहसील थलीसैंण पौड़ी, नरेंद्र मेहता पुत्र महेंद्र मेहता निवासी ग्राम बटगिरि पट्टी बनकोट तहसील गणाई गंगोलीहाट पिथौरागढ़, नवीन भट्ट पुत्र लोकेंद्र प्रसाद निवासी ग्राम गढ़ी मयचक श्यामपुर ऋषिकेश, शरत कैंतुरा, कुलदीप पंवार व कलम सिंह नेगी के खिलाफ आईटी ऐक्ट, आपदा प्रबंधन ऐक्ट आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था।

यह मुकदमा भाजपा महानगरअध्यक्ष सीताराम भट्ट ने दर्ज कराया था। इस मामले की विवेचना एसपी देहात कार्यालय में तैनात इंस्पेक्टर राजीव रौथाण को सौंपी गई थी। इंस्पेक्टर ने एसटीएफ की मदद से साक्ष्य एकत्र कर आरोपियों की पहचान की। 
 

आरोपियों ने गलती मानी
देहरादून। कोतवाली प्रभारी संजय ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद आरोपियों से पूछताछ हुई। आरोपियों ने पोस्ट डालने के मामले में गलती मानी। आरोपियों में लोग निजी संस्थानों में नौकरी करते थे जबकि कुछ बेरोजगार हैं। 

बाकी आरोपियों की तलाश में दबिश 
डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने विवेचना में यश रावत उर्फ राजेंद्र रावत निवासी ग्राम सरूली थाना घनसाली टिहरी का नाम सामने आया था। बुधवार को पंकज, नरेंद्र, नवीन और यश को गिरफ्तार कर लिया है।

बाकी आरोपियों की तलाश में पुलिस टीमें दबिश दे रही है। आरोपियों को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। टीम में सीओ नरेंद्र पंत, इंस्पेक्टर राजीव रौथाण, कैंट कोतवाली प्रभारी संजय मिश्रा, एसआई पंकज सिंह, विजय सिंह व सुनील नेगी शामिल रहे। 

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *