घोषणा: फरवरी 2021 तक नहीं होगी सीबीएसई बोर्ड परीक्षा

शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों के संग संवाद करते हुए कहा कि आगामी 2021 बोर्ड परीक्षाओं पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि कई सीबीएसई स्कूल ग्रामीण क्षेत्रों में हैं। इसलिए ऑनलाइन परीक्षाएं संभव नहीं हैं। इसके अलावा शिक्षा मंत्री ने कहा कि सीबीएसई बोर्ड हम फरवरी 2021 तक सीबीएसई बोर्ड परीक्षा नहीं दे पाएंगे।

शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने अपने शेड्यूल के मुताबिक बोर्ड परीक्षाओं पर शिक्षकों के संग चर्चा शुरू कर दी है। इस दौरान उन्होंने टीचर्स से कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सीखने को मिलेगी तब, तो वे अधिक कुशल हो जाएंगे। वेबिनार में शिक्षा मंत्री ने कहा,‘स्टूडेंट्स की मेंटल हेल्थ को बढ़ावा देने के लिए योग का अभ्यास बढ़ावा दिया जाएगा, जिससे शिक्षकों के मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के उत्थान में मदद करते है।

सीबीएसई बोर्ड की ओर से 10वीं और 12वीं की परीक्षा की तारीखों को लेकर आज यानी कि 22 दिसंबर को बड़ी घोषणा हो सकती है। संभावना है कि आज परीक्षा की तारीखों को ऐलान कर दिया जाए। ऐसी उम्मीद इसलिए जताई जा रही है, क्योंकि केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल (Ramesh Pokhriyal) आज सीबीएसई कक्षा 10 और 12 परीक्षाओं के संबंध में आज देश भर के शिक्षकों और छात्रों के साथ बातचीत करने वाले हैं।

इसके लिए वे एक लाइव वेबिनार आयोजित करेंगे। लाइव बातचीत के दौरान शिक्षा मंत्री CBSE बोर्ड परीक्षा के पेपर पैटर्न और सिलेबस में की गई कमी के बारे में संबोधित प्रश्नों को भी जवाब देंगे।इसके साथ-साथ 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं की तारीखों के बारे में भी बड़ी अपडेट दे सकते हैं।

शिक्षा मंत्री शिक्षकों के साथ बोर्ड परीक्षा पर चर्चा करने के लिए ट्विटर या फेसबुक पर शाम 4 बजे लाइव होंगे। कोरोनावायरस महामारी के दौरान समय पर परीक्षा आयोजित करने की पहल के तहत शिक्षा मंत्री ने देश भर के छात्रों अभिभावकों और शिक्षकों के साथ अलग-अलग स्तर पर बाचतीत करने की योजना बनाई है। इसके अलावा अगर सीबीएसई बोर्ड की बात करें तो सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन यानी CBSE बोर्ड की परीक्षाओंं

के संबंध में कहा है कि यह परीक्षाएं ऑनलाइन नहीं होंगी। साल 2021 में होने वाली यह परीक्षा छात्रों को पहले की तरह कागज-पेन से ही देनी होगी। इस संबंध में बोर्ड ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है। ये परीक्षाएं बीते वर्षों की तरह सामान्य लिखित रूप में ली जाएंगी। बता दें कि केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल इसके पहले इसी तरह का एक वेबिनार 18 दिसंबर को आयोजित किया था।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *