स्मार्ट सिटी की ‘स्मार्ट आंखें’ अब अपराधियों को धर दबोचेगी

देहरादून स्मार्ट सिटी से किसी अपराधी के बच निकलने की उम्मीद अब न के बराबर रहेगी। राजधानी में 450 आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस कैमरे लगाए जाएंगे। इनमें से 250 कैमरे फरवरी तक लग जाएंगे। शेष कैमरे मई तक लग जाएंगे। इन कैमरों में कैद फोटो व अन्य जानकारी एनालिटिकिल इंजन तकनीक से अपराधी के चेहरे की पहचान करेगी। देहरादून स्मार्ट सिटी के तहत शहर में कई सार्वजनिक स्थलों पर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस कैमरे लगाए जाने हैं। इनका संचालन ‘सदैव दून’ (आईसीसीसी) से होगा। इनमें पुलिस की मदद से अपराधियों की फोटो अपलोड की जाएगी। उसके बाद वह अपराधी शहर के जिस भी क्षेत्र में दिखेगा। उसकी फोटो आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस कैमरे के जरिये तुरंत ‘सदैव दून’ को मिल जाएगी। उसके बाद इसकी सूचना तुरंत पुलिस तक भी पहुंच जाएगी। 

‘सदैव दून’ में एनालिटिकल इंजन फोटो में मौजूद चेहरे की पहचान करेगा। डाटा, इंटरनेट और सोशल मीडिया पर सर्च कर संबंधित फोटो वाले व्यक्ति का पता लगाया जाएगा। जानकारी मिलते ही उसके खिलाफ  पुलिस कार्रवाई करेगी। 

बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए शहर में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस कैमरे लगाने की तैयारी की जा रही है। यह कैमरे लापता लोगों को खोजने में मददगार साबित होंगे। इन कैमरों के सॉपटवेयर में लापता लोगों की फोटो भी अपलोड करेंगे। उसके बाद जहां संबंधित व्यक्ति दिखेगा पुलिस तक उसका मैसेज पहुंच जाएगा। 

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *