यूपी में नई जनसंख्या नीति का ऐलान, सीएम योगी बोले- जनसंख्या विकास में बाधा

आज वर्ल्ड पॉपुलेशन डे यानी विश्व जनसंख्या दिवस के मौके पर यूपी में सीएम योगी की सरकार ने नई जनसंख्या नीति का ऐलान कर दिया। सीएम योगी ने आज ‘उत्तर प्रदेश जनसंख्या नीति 2021-2030’ विमोचन किया। उन्होंने कहा कि नई जनसंख्या नीति में सबका ध्यान रखा गया है। उन्होंने कहा कि बढ़ती जनसंख्या विकास में बाधा है, इसके नियंत्रण के लिए कोशिश जरूरी है।

सीएम योगी ने कहा कि समाज के विभिन्न तबकों को ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार इस जनसंख्या नीति को लागू करने का काम कर रही है। जनसंख्या नीति का संबंध केवल जनसंख्या स्थिरीकरण के साथ ही नहीं है बल्कि हर एक नागरिक के ​जीवन में खुशहाली और समृद्धि का रास्ता उसके द्वार तक पहुंचाना भी है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिक समान वितरण के साथ सतत विकास को बढ़ावा देने के लिए जनसंख्या को नियंत्रित और स्थिर करने के लिए विधेयक लाना आवश्यक है। उन्होंने इस मुद्दे पर लोगों के बीच जरूरत या जागरूकता पैदा करने को भी रेखांकित किया। नई जनसंख्या नीति में 2026 तक जन्म दर 2.1 प्रति हजार जनसंख्या और 2030 तक 1.9 करने का लक्ष्य रखा गया है।

नई नीति में प्रमुख बिंदुओं में से एक 11 से 19 वर्ष के बीच के किशोरों की शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण के बेहतर प्रबंधन के अलावा बुजुर्गों की देखभाल के लिए व्यापक व्यवस्था करना है। राज्य की जनसंख्या नीति 2000-16 की अवधि समाप्त हो चुकी है और अब नई नीति समय की मांग है। नई नीति में जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए जागरूकता प्रयासों के साथ-साथ डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की भावना के अनुरूप शिशुओं, किशोरों और बुजुर्गों की डिजिटल ट्रैकिंग के लिए एक प्रणाली के साथ स्कूलों में ‘हेल्थ क्लब’ स्थापित करने का एक अभिनव प्रस्ताव है।

आपको बता दें कि 2022 विधानसभा चुनाव से पहले जनसंख्या नीति को सीएम योगी का मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है, लेकिन विपक्ष इसकी टाइमिंग और मंशा पर सवाल खड़े कर रहा है। फिलहाल, यूपी स्टेट लॉ कमीशन ने जनसंख्या नीति का ड्राफ्ट वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है। अब इस ड्राफ्ट पर लोगों से 19 जुलाई तक सुझाव मांगे गए हैं। 19 जुलाई के बाद इस ड्राफ्ट को सरकार के पास भेज दिया जाएगा।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *