सिगरेटपीने में कितना पैसा उड़ाया, हिसाब लगाएंगे सिहर उठेंगे आप

सिगरेट पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, इससे कैंसर होता है। सिगरेट की हर डिब्बी के ऊपर ये वैधानिक चेतावनी लिखी होने के बावजूद लोग सिगरेट पीते हैं और एक दिन में कई सिगरेट धुएं में उड़ा देते हैं। आज हम आपको ये ज्ञान नहीं दे रहे कि सिगरेट पीने से आपके स्वास्थ्य को क्या नुकसान होता है। ये तो आपने कई जगह पढ़ लिया होगा, पढ़कर भूल भी गए होंगे। लेकिन आज हम सिगरेट के जिस नुकसान के बारे में आपको बताने जा रहे हैं, उसका गणित समझने के बाद आपके रोंगटे खड़े हो सकते हैं।

वाकई पैसा बड़ी चीज है, अच्छे जीवन को जीने के लिए। अगर इस बात को समझ चुके हैं तो इस गणित को समझना आपके लिए वाकई जरूरी है। हम आपको बताना चाह रहे हैं कि जिस सिगरेट पर आप पैसा और स्वास्थ्य दोनों लगा रहे हैं, उसे अगर न पीते तो आप उसके बदले, एक सुंदर सा मकान, एक शानदार कार या बाइक के मालिक बन सकते थे। आप चाहते तो इन पैसों से बैंक में एफडी कराते और मोटा ब्याज भी पाते।
चलिए एक आसान सा गणित लगाते हैं और देखते हैं कि आप सिगरेट पीकर नुकसान में रहे या फायदे में।

मसलन आप रोज 10 सिगरेट (एक सिगरेट की कीमत 20 रुपए) पीते हैं। यानी कि आप दिन में 200 रुपए धुंए में उड़ा रहे हैं। इस तरह महीने के छह हजार और साल के 72000 रुपए केवल चंद सेकेंड की तलब के लिए धुएं में उड़ा रहे हैं।

अब 18 से 50 साल तक का गणित निकालते हैं। एक दिन के गणित से कैलकुलेट किया जाए तो 20 से 60 साल तक के बीच आप 28,80,000 रुपए महज सिगरेट पर उड़ा चुके होंगे।

लगभग 29 लाख रुपए जो आपने सिगरेट में फूंक डाले, आप चाहते तो उनसे सुंदर सा टू बेडरूम फ्लैट ले सकते थे। एक लक्जरी कार ले सकते थे। इतना ही नहीं आप चाहते तो हर साल इतने ही पैसों को बैंक में एफडी करवाते तो शायद आप अपने बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए बैंकों से मोटा लोन लेने से बच जाते।

बीमार तो पड़ेंगे ही

आप सिगरेट पिएंगे तो बीमार तो पड़ेंगे ही। इससे कैंसर जैसी बीमारी होती है, दमा, सांस लेने में दिक्कत, अल्सर आदि रोग होते हैं। अगर आपका 500 रुपए का हर माह का डॉक्टर का बिल मान लें तो साल छह हजार रुपए डाक्टर के पास गए। चालीस साल तक सिगरेट पीते रहेंगे तो डॉक्टर को ही बिल के रूप में ही 2, 40, 000 रुपए भेंट चढ़ा चुके होंगे।

खुदा न खास्ता कैंसर हो गया तो
अब रोज इतनी सिगरेट पिएंगे तो कैंसर की हिट लिस्ट में रहेंगे ही। खुदा न खास्ता आपको कैंसर हो गया तो उसका इलाज करोड़ों निगल जाएगा। सोचिए आपके परिवार को आपकी सिगरेट की लत कितनी महंगी पड़ेगी। वो परिवार जिसकी खातिर आप कितना कष्ट उठाते हैं, नौकरी पर जाते हैं, उनकी हर जरूरतें पूरी करते हैं, वो ही अगर आपके कारण कष्ट में आ गया तो आप कैसा महसूस करेंगे।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *