उत्तराखंड कोरोना संक्रमण में कमी; 77 फीसद गिरी कोरोना की संक्रमण दर

कोरोना की दूसरी लहर दून पर भारी गुजरी है। सात मई को जब संक्रमण दर चरम स्तर 34.36 फीसद पर पहुंच गई तो जेहन में रह-रहकर सवाल उठ रहा था कि आगे जाने क्या होगा? उस दिन रिकवरी रेट भी महज 31.33 फीसद पर आ गया था। आक्सीजन और आइसीयू बेड के लिए मारामारी मची थी। दूसरे जिलों व अन्य प्रदेशों के मरीजों का भी दबाव पड़ने से संसाधन बौने साबित हो रहे थे।

अब अच्छी बात यह है कि जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के प्रयासों के बीच हालात तेजी से सुधरते दिख रहे हैं। सात मई के बाद 16 दिन के अंतराल में ही संक्रमण दर इस माह के न्यूनतम स्तर 7.65 फीसद पर पहुंच गई। जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के मुताबिक अस्पतालों पर दबाव भी घटने लगा है। रविवार को जिले में संक्रमण के 716 नए मामले आए, जबकि इसके सापेक्ष 3133 लोग स्वस्थ हो गए। अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। सभी जगह तेजी से एंटीजन जांच की जा रही है। कम्युनिटी सर्विलांस के माध्यम से भी मरीजों की पहचान की जा रही है।

दून में मौत के आंकड़े निरंतर चिंता का सबब बने हुए थे। कोरोना की दूसरी लहर के जोर मारने के बाद रविवार को पहली दफा कोरोना से मरने वाले व्यक्तियों की संख्या सबसे कम रही। कोरोना जब चरम पर था, तब छह मई को 103 और सात मई को 80 व्यक्तियों की मौत दर्ज की गई थी। रविवार को इस माह में सबसे कम 27 व्यक्तियों की कोरोना से मौत हुई।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *