भुवन हत्याकांड के मुख्य आरोपी लड़की के पिता शिवदत्त पांडे समेत ग्राम प्रधान को भी गिरफ्तार

अल्मोड़ा के दन्या हत्याकांड में पुलिस ने कड़ा एक्शन लिया है। इस मामले में पुलिस ने हत्याकांड के मुख्य आरोपी लड़की के पिता शिवदत्त पांडे को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा इस मामले में ग्राम प्रधान को भी गिरफ्तार कर लिया है। आपको बता दें कि दन्या में भुवन जोशी नाम के युवक की गांव वालों ने पीट पीटकर हत्या कर दी थी। इस मामले में लड़की पर साजिश रचने के आरोप लग रहे हैं। अब तक मिली जानकारी के अनुसार ग्राम रूबाल निवासी भुवन चंद्र , डसीला निवासी कैलाश सिंह और ललित सिंह दन्या थाना क्षेत्र के अंतर्गत सलपड़ गांव में बीते बुधवार को एक किशोरी से मिलने गए थे। इसके बाद आक्रोशित गांव वालों ने भुवन और कैलाश की जमकर पिटाई कर दी। उन्हें अधमरी हालत में पुलिस के हवाले कर दिया, जबकि ललित मौके से फरार हो गया।मारपीट में घायल भुवन की तबीयत बिगड़ गई। पुलिस उसे लेकर अस्पताल पहुंची, जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मामले में मृतक के परिजनों ने दन्या थाना में ग्रामीणों के खिलाफ तहरीर दी है। इसके बाद पुलिस का एक्शन शुरू हुआ। पहले पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया और इसके बाद मुख्य आरोपी यानी लड़की के पिता शिवदत्त पांडे को भी गिरफ्तार कर दिया गया है।

आरासलपड़ गांव (सरयूघाटी) में किशोरी से छेड़छाड़ के बाद बवाल हो गया। तैश में आए ग्रामीणों ने दो युवकों को घेर लिया। तीसरा आरोपित भाग निकला। इससे गुस्साई भीड़ ने हत्थे चढ़े आरोपितों को गिराकर पीटना शुरू कर दिया। घंटों हंगामा चलता रहा। बेरहमी से पीटे जाने से एक आरोपित ने अगले रोज स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। दूसरे की हालत ठीक बताई जा रही है। सनसनीखेत मामले की पुलिस जांच शुरू कर दी गई है।

मामला बीती बुधवार शाम का है। धौलादेवी ब्लाॅक के सुदूर आरासलपड़ गांव में घर के भूतल पर बनी दुकान पर 16 वर्षीय किशोरी कुछ सामान खरीदने आई थी। इसी दौरान बाइक से तीन युवक वहां पहुंचे। आरोप है कि उन्होंने किशोरी से छेड़छाड़ शुरू कर दी। पास ही खेल रहे बच्चों ने ग्रामीणों को बुला लिया। इससे लड़की के परिजन व गांव वाले भड़क उठे। उन्होंने भुवन चंद्र जोशी (22) पुत्र उमेश चंद्र जोशी निवासी रूवाल गांव व कैलाश सिंह पुत्र शेर सिंह डसीली गांव (दोनों दन्यां क्षेत्र) को घेर दबोच लिया। तीसरा आरोपित ललित सिंह पुत्र प्रताप सिंह डसीली गांव मौका देख खिसक लिया।

इधर गुस्साई भीड़ भुवन व कैलाश पर टूट पड़ी। दोनों को बुरी तरह पीटा गया। इसी दौरान दन्यां थाने को भी सूचना दी गई। कुछ ही देर में एसआइ इंदर सिंह मयटीम गांव पहुंचे। भीड़ के चंगुल से बचा पुलिस कर्मियों ने दोनों आरोपित हिरासत में ले लिए। वहीं मौकेक से फरर ललित सिंह को भी पकड़ लिया गया।

पुलिस ने तीनों आरोपितों का सीएचसी धौलादेवी में मेडिकल कराया। उन्हें हिरासत में रखा गया था। गुरुवार सुबह करीब दस बजे ग्रामीणों की पिटाई से बेदम हुए भुवन जोशी का स्वास्थ्य अचानक खराब हो गया। उसे पुलिस कर्मी सीएचसी ले गए। जहां मध्याह्न करीब 12 बजे उसकी मौत हो गई।

एसआइ इंदर सिंह ने बताया कि किशोरी के पिता की तहरीर पर तीनों लड़कों के खिलाफ छेड़छाड़ व पाॅस्को एक्ट में बुधवार रात को मुकदमा दर्ज कर लिया था। लड़की को चिकित्सकीय परीक्षण के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया है।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *