पूर्व राज्यमंत्री अतर सिंह तोमर ने किया आपदा प्रभावित बेथाण गांव का भ्रमण

  • गांव में भूस्खलन व भू-धंसाव से दहशत में हैं ग्रामीण
    ग्रामीणों की हर संभव मद्द का दिलाया भरोसा
    नई टिहरी।
    भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व राज्यमंत्री अतर सिंह तोमर ने प्रतापनगर की ग्राम पंचायत गैरी राजपूतों के अन्तर्गत आपदा प्रभावित बेथाण गांव का भ्रमण कर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी और उनकी हर संभव मद्द करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि आपदा से नुकसान बहुत हो गया है इसलिए प्रभावित परिवारों का विस्थापन किया जाना जरूरी है।
    बीते दिनों भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व राज्यमंत्री अतर सिंह तोमर प्रतापनगर के सीमांत बेथाण गांव पहुंचें। जहां उन्होंने भूस्खलन व भू-धंसाव से हो रहे नुकसान का जायजा लिया और ग्रामीणों से बातचीत कर उनकी समस्याएं जानी। ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि भूस्खलन व भू-धंसाव ने उनके लिए मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। कई मकान खतरे की जद में आ गए हैं स्थिति यह है कि दो बड़े मकानों में दरारें व पानी आने से प्रभावित परिवारों ने मकान खाली कर अन्यत्र शरण ली है। स्थिति को देखते हुए ग्रामीणों का कहना है कि विस्थापन ही उनकी समस्या का एक मात्र समाधान है, इसलिए इस दिशा में कार्यवाही की जाए। जिस पर राज्यमंत्री श्री तोमर ने कहा कि जिस तरह लगातार भू-धंसाव और भूस्खलन हो रहा है और उससे खतरा बढ़ता जा रहा है इसलिए समय रहते सुरक्षा के इंतजाम किए जाने जरूरी हैं। उन्हेांने कहा कि बहुत ज्यादा कुछ प्रभावित परिवारों को वैसे तो प्रशासन की टीम ने एक से डेढ़ लाख रूपए तक की आर्थिक सहायता भी दी, लेकिन यह पर्याप्त नही है इससे उनकी समस्या हल नही हो पायेगी। उनका कहना है कि इससे वे एक कमरा भी नही बना पायेंगे। उन्होंने कहा कि वे ग्रामीणों की समस्याओं को लेकर जल्द ही मुख्यमंत्री से मिलेंगे और उनको उचित मुआवजा देने और विस्थापन की मांग करेंगे। साथ ही गांव का भूगर्भीय सर्वेंक्षण कराने के निर्देश भी जारी करवायेंगे। उन्होंने आपदा से क्षतिग्रस्त पेयजल लाइनों को ठीक करने और गांव में पेयजल की आपूर्ति सुचारू करने के लिए जल संस्थान के सक्षम अधिकारियों को मौके पर दूरभाष से निर्देश दिए। उन्हेांने यह भी कहा कि इसके अलावा अन्य जो भी सहयोग हो पायेगा वे जरूर करेंगे।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *