देहरादून के बाजार में उमड़ी आमजन की भीड़, प्रशासन के हाथ-पांव फूले

शासन की ओर से जारी गाइडलाइन के तहत शुक्रवार को शहरभर में आवश्यक सेवाओं के प्रतिष्ठानों के साथ परचून की दुकानों को खोला गया। इस दौरान दून के बाजार में जगह-जगह शारीरिक दूरी के नियम की धज्जियां उड़ीं तो कई जगह लोग बिना मास्क के भी देखे गए। जिससे एक बार फिर कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। इससे जिला प्रशासन के माथे पर भी चिंता लकीरें खिंच गई हैं।

कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर रोक लगाने के लिए शासन की ओर से कर्फ्यू घोषित किया गया है। साथ ही अति आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को छोड़ सभी प्रतिष्ठानों को अग्रिम आदेशों तक बंद रखने के आदेश भी दिए गए हैं। इस बीच शुक्रवार को निर्देशों के क्रम में जब सुबह सात बजे दून में परचून की दुकानें खुलीं तो आमजन की भीड़ बाजार में उमड़ पड़ी। हनुमान चौक, आढ़त बाजार, दर्शनी गेट, रमलीला बाजार में भीड़ को मास्क पहनने व शारीरिक दूरी नियम का पालन कराने में पुलिस के भी पसीने छूट गए।

इसके अलावा डिस्पेंसरी रोड, श्रीझंडे जी बाजार, तहसील चौक, सरनीमल बाजार में दोपहर 12 बजे तक खरीदारों की भीड़ जुटी रही। यहां भी शारीरिक दूरी का नियम तारतार होता नजर आया। हनुमान चौक, रामलीला बाजार, आढ़त बाजर में सामान ढोने वाले रिक्शे, लोडर, कारों व दोपहिया वाहनों के कारण जाम की स्थिति बनी रही। जिससे भी खासी परेशानी हुई। उधर, कारगी चौक, बंजारावाला, धर्मपुर, छह नंबर पुलिया, माजरा, आइएसबीटी, टर्नर रोड, बल्लूपुर, प्रेमनगर आदि शहर के बाहरी इलाकों में भी परचून की दुकानों में भीड़ लगी रही। हालांकि, यहां काफी हद तक शारीरिक दूरी नियम का पालन हुआ। साथ ही आमजन व दुकानदारों ने मास्क का प्रयोग किया।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *