साइबर ठग ने समीक्षा अधिकारी के खाते को भी नही छोड़ा; निकाले एक लाख रुपये

एक ठग ने समीक्षा अधिकारी के खाते से एक लाख रुपये निकाल लिए। डालनवाला कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। सुशील प्रसाद थपलियाल ने पुलिस को तहरीर दी कि वह शासन में समीक्षा अधिकारी हैं। उन्होंने ऑनलाइन बैंकिंग से अपने मित्र को 2300 रुपये भेजे थे, जो उनके खाते में नहीं पहुंचे। जब उन्होंने स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के टोल फ्री नंबर पर बात की तो उन्होंने गूगल पे के कस्टमर केयर नंबर पर बात करने को कहा। उन्होंने इंटरनेट मीडिया पर गूगल पे टोल फ्री नंबर के नाम से मिले नंबर पर बात की तो दूसरी तरफ से एक लिंक भेजा गया। लिंक पर क्लिक करते ही उनके खाते से एक लाख रुपये की निकासी हो गई।

सिमकार्ड की केवाइसी अपडेट करवाने के नाम पर एक ठग ने व्यक्ति के खाते से 60 हजार रुपये उड़ा दिए। वसंत विहार थाना पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। जीएमएस रोड निवासी आइडी सिंघल ने पुलिस को बताया कि 24 फरवरी को उन्हें एक व्यक्ति ने फोन किया और कहा कि उनका मोबाइल सिमकार्ड बंद होने वाला है, इसलिए केवाइसी अपडेट करवा लें। इसके लिए उसने बीएसएनएल का कस्टमर केयर नंबर बताकर एक नंबर दिया और बात करने को कहा। इस नंबर पर बात की तो दूसरे ठग ने एक लिंक भेजा और उसे खोलने को कहा। लिंक पर क्लिक करते ही व्यक्ति के खाते से 60 हजार रुपये की निकासी हो गई।

लॉटरी जीतने का लालच देकर ठगों ने एक बुजुर्ग से 18 लाख रुपये ठग लिए। एक बुजुर्ग ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार को उन्हें एक व्यक्ति ने फोन कर बताया कि वह वोडाफोन कंपनी का मैनेजर है। उसने बुजुर्ग से 51 लाख की लाटरी व कार इनाम में जीतने की बात की। उक्त इनाम की राशि व कार प्राप्त करने के लिए विभिन्न प्रोसेसिंग चार्ज के रूप में 18 लाख रुपये विभिन्न बैंक खातों में डलवा दिए।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *