डेंगू-मलेरिया उन्मूलन अभियान का डीएम आशीष कुमार श्रीवास्तव ने किया निरीक्षण

 जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव द्वारा प्रातः 8ः30 बजे से प्रातः 9ः30 बजे तक जनपद अवस्थित रायपुर चैक से नगर निगम, राजस्व विभाग के अधिकारियों तथा अन्य अधीनस्थ अधिकारियों और कार्मिकों के साथ तथा विधायक विकासनगर मुन्ना सिंह चैहान, विधायक देहरादून कैन्ट हरबंस कपूर व विधायक रायपुर उमेश शर्मा काऊ द्वारा भी अपने-अपने क्षेत्रों में डेंगू-मलेरिया उन्मूलन अभियान का शुभारम्भ किया गया।जनपद में सम्पूर्ण वर्षाकाल तक प्रत्येक बुधवार एवं शनिवार को डेंगू-मलेरिया उन्मूलन तथा कोविड-19 संक्रमण से बचाव हेतु व्यापक फाॅगिंग, सेनिटाइजेशन के उद्देश्य से आयोजित अभियान के अन्तर्गत जिलाधिकारी द्वारा इस दौरान रायपुर चैक से सड़क के दोनो ओर स्थित डेयरी, मेडिकल स्टोर, वर्कशाॅप, टायरों की दुकानों, क्लीनिक, किराना स्टोर इत्यादि की दुकानों एवं सड़क के दोनों ओर बनी हुई नालियों, में अवरूद्ध पानी निकासी तथा साफ-सफाई का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने सम्बन्धित दुकानों के स्वामी को फटकार लगाते हुए कहा कि यदि उनकी दुकान के सामने किसी भी प्रकार से कूड़े अथवा पाॅलिथीन के चलते नालियां अवरूद्ध पाई गयी तो सम्बन्धित का चालान किया जायेगा। साथ ही नगर निगम को भी सड़क के दोनो ओर तथा आस-पास के क्षेत्रों में अवरूद्ध पानी की निकासी दुरूस्त करने तथा साफ-सफाई सुनिश्चत रखने के निर्देश दिये। उन्होंने नगर निगम को निर्देशित किया कि जहां पर सड़क के किनारे स्थित नालियों का ढाल ठीक नही है अथवा नालियां टूटी-फूटी हैं उसको लो.नि.वि के सहयोग से ठीक कर लिया जाय, जिससे पानी की निकासी आसानी से हो सके। साथ ही रायपुर में नाले में भरे हुए कीचड़ को हटाया जाय, ताकि मच्छरों को पनपने का अवसर न मिल पाये। इस दौरान जिलाधिकारी ने राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय रायपुर के परिसर का निरीक्षण करते हुए विद्यालय में स्थित पानी की टंकी का अवलोकन करते हुए टंकी की सफाई करने और उसके ढक्कन को ठीक करने साथ ही परिसर में पानी की सुगम निकासी सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिये।जिलाधिकारी ने वार्ड संख्या 66 के पार्षद कपिल धर को निर्देश दिये कि वे भी अपने क्षेत्रान्तर्गत डेंगू-मलेरिया उन्मूलन अभियान के तहत जनमानस को जागरूक करें और उनका व्यापक सहयोग प्राप्त करते हुए क्षेत्रों में घरों एवं उसके आसपास अवस्थित कूलर, गमलों, खाली बरतनों, डब्बों, टायर के टुकड़ों, पानी की टंकियों, अवरूद्ध जल क्षेत्रों का निरीक्षण  करते हुए अवरूद्ध जल को हटवायें। कहा कि नगर निगम के समन्वय से फाॅगिंग, चूना छिड़काव, सेनिटाइजेशन इत्यादि करवायें तथा यदि किसी भी प्रकार के संसाधनों की जरूरत हों तो  उसकी मांग करे और अपने क्षेत्र में स्थित दुकानों और गृह स्वामियों के भवन पर ‘‘मैं डेंगू-मलेरिया फैलाने में मदद नही कर रहा हूॅ’’ का संदेश चस्पा करवायें साथ ही लोगों को डेंगू मलेरिया उन्मूलन अभियान के प्रति जागरूक करें। इस दौरान  नगर निगम द्वरा वाहनों में स्पीकर के माध्यम से  डेंगू-मलेरिया उन्मूलन जागरूकता सदेंश का प्रसारण भी किया गया।जिलाधिकारी ने रायपुर क्षेत्रों में स्थित विभिन्न डेयरी संचालकों द्वारा पाले जा रहे पशुओं और उनके द्वारा संग्रहित किये जा रहे गोबर स्थल का निरीक्षण करते हुए सम्बन्धित पशुपालकों से पशुओं के गोबर एवं मलमूत्र को किसी भी दशा में सड़क किनारे स्थित नालियों अथवा नालों  में न बहाने की चेतावनी दी तथा इस सम्बन्ध में उप जिलाधिकारी सदर एवं नगर निगम को क्षेत्र में स्थित डेयरी, पशुपालक स्थलों की फोटोग्राफी-वीडियोग्राफी कराते हुए साफ-सफाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। साथ ही कहा कि यदि कोई डेयरी पशुपालक पशुओं के गोबर व मलमूत्र का सही तरह से संग्रहण एवं निस्तारण नही करता है तो उस दशा में सुसंगत प्राविधानों के अन्तर्गत सम्बन्धित पर चालान एवं वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जाय। उन्होंने रायपुर क्षेत्र की तरह विभिन्न क्षेत्रों में उप जिलाधिकारियों, नगर निगम तथा नगर पालिकाओं के अधिकारियों को सम्पूर्ण वर्षाकाल में डेंगू-मलेरिया उन्मूलन और कोविड-19 संक्रमण से बचाव हेतु व्यापक सेनिटाइजेशनध्फाॅगिंग के कार्य को अपने-अपने क्षेत्रों में सुचारू रूप से करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर रायपुर क्षेत्र में चलाये गये डेंगू-मलेरिया उन्मूलन अभियान में अपर जिलाधिकारी वि/रा बीर सिंह बुदियाल व प्रशासन अरविन्द पाण्डेय, उप जिलाधिकारी सदर गोपाल राम बिनवाल, वरिष्ठ नगर स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ आर.के सिंह, वार्ड संख्या 66 के पार्षद कपिल धर सहित सम्बन्धित अधीनस्थ कर्मिक उपस्थित थे।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *