उत्तराखंड पूर्व सैनिक-अर्धसैनिक संयुक्त संगठन के स्थापना दिवस पर किया गया “सैनिक दर्पण” का विमोचन।

देहरादून।
उत्तराखंड पूर्व सैनिक-अर्ध सैनिक संयुक्त संगठन के 28 स्थापना दिवस पर, पूर्व सैनिक- अर्धसैनिक संयुक्त संगठन के मुखपत्र” सैनिक दर्पण” का विमोचन किया गया। जिसमें मेरी चार कविताओं को स्थान मिला। जिसमें सेना, शौर्य और पराक्रम का उल्लेख किया गया। कार्यक्रम में केंद्रीय अध्यक्ष ब्रिगेडियर विनोद पसबोला , कार्यक्रम अधिकारी अध्यक्ष दिगंबर प्रसाद बलूनी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष चंद्रमणि बंदूनी तथा महासचिव पीसी थपलियाल के अलावा सुरेंद्र प्रसाद नौटियाल जी का आभार । कार्यक्रम में “सैनिक दर्पण” पत्रिका के विमोचन के बाद चर्चाएं आयोजित की गई। मुख्य अतिथि लेफ्टिनेंट जनरल गंभीर सिंह नेगी, विशिष्ट अतिथि पूर्व कमिश्नर एस-एस पांगती, ब्रिगेडियर विनोद पसबोला अनेकों पूर्व सैन्य अधिकारियों और जवानों ने अपने संगठन का पक्ष मंच पर साझा किया तथा पूर्व सैनिकों से जुड़ी हुई समस्याओं के प्रति अवगत कराया। इसके साथ ही उन्होंने वन रैंक -वन पेंशन के लिए सरकार का भी आभार प्रकट किया और उपनल में पूर्व सैनिकों के आश्रितों को वरीयता देने की बात की गई। चार घंटे के कार्यक्रम में सुनियोजित ढंग से वक्ताओं ने अपनी बात रखी। मंच पर आसीन संदीप गुप्ता तथा रायपुर क्षेत्र के पार्षद रमेश रावत ने भी पूर्व सैनिकों की समस्याओं को सरकार तक पहुंचाने के लिए सहयोग देने की बात की।कार्यक्रम में लेफ्टिनेंट जनरल जी एस नेगी ने समस्त पूर्व सैनिक और अर्धसैनिक पदाधिकारियों और सदस्यों का सुंदर कार्यक्रम के लिए धन्यवाद किया। कहा कि पूर्व सैनिक तथा अर्ध सैनिक बल के जवानों का जो योगदान राष्ट्र की सेवा में रहा है उसको अक्षुण बनाए रखना चाहिए तथा समस्त पूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों की समस्याओं का भी समाधान समुचित ढंग से किया जाना जरूरी है। इस मौके पर कभी सोमवारी लाल सकलानी निशांत ने सैनिकों को समर्पित कविताएं की। इस मौके पर टिहरी से पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष इंद्र सिंह नेगी, विक्रम सिंह भंडारी आदि ने भी अपने विचार रखें।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *