पूर्व सीएम हरीश रावत मंगलवार से अपने गांव मोहनरी में होंगे

नवरात्र के पावन दिनों में पहाड़ के गांव आबाद हैं। स्थानीय लोगों के अलावा प्रवासी भी लोक देवताओं की पूजा-अर्चना में जुटे हैं। पूर्व सीएम हरीश रावत भी मंगलवार से अपने गांव मोहनरी में होंगे। हरदा ने कहा कि जागर लगाने के बाद उसके वीडियो प्रवासियों को भी भेजे जाएंगे, ताकि घर-गांव से दूर होकर भी वह लोक देवताओं की स्तुति कर सकें। इसके अलावा नवरात्र में धार्मिक अनुष्ठान व भंडारे के आयोजन में भी वह शामिल होंगे।पूर्व सीएम हरीश रावत ने कार्यकर्ताओं से तीन कार्यक्रमों में प्रतिभाग करने की अपील की है। इसमें सदस्यता अभियान, गांव चलो अभियान के अलावा पूर्व सैनिकों व शहीदों के परिवार का सम्मान शामिल है। गांधी जयंती के मौके पर कांग्रेस की ओर से गांव प्रवास कार्यक्रम चलाया गया था। जिसके बाद हरदा ने नवरात्र में दो दिन अपने गांव में धार्मिक आयोजनों में प्रतिभाग करने का फैसला किया था।

अब पूर्व सीएम ने कहा कि गांव की जागर में शामिल होकर वह लोक देवताओं का धन्यवाद करने के साथ प्रवासियों तक उस आशीर्वाद को पहुंचाएंगे।हरदा ने फेसबुक पेज पर 1.52 सेकेंड का वीडियो अपलोड किया है। इसमें वह केदारनाथ, तुंगनाथ, बदरीनाथ समेत उत्तराखंड के अन्य मंदिरों में दर्शन करते नजर आ रहे हैं। इसके अलावा केदारनाथ आपदा के बाद पुनर्निर्माण से जुड़े कामों का भी जिक्र है। पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड का कोई ऐसा मंदिर नहीं होगा, जहां वह नहीं गए। लेकिन अपनी आस्था को भाजपा की तरह शोबाजी नहीं बनाया। भाजपा को जब कुछ नहीं मिलता तो वह मेरी वीडियो-फोटो को एडिट कर दुष्प्रचार में जुट जाती है।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *