बारिश बंद होने से जनजीवन पर पटरी पर; लोहाघाट-पिथौरागढ़ हाईवे अभी भी नहीं खुल पाया

जिले में पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश पर रविवार की शाम से विराम लगा है। सोमवार को सुबह बादलों के बीच कई जगह हल्की धूप निकली। बारिश बंद होने से जनजीवन पर पटरी पर लौट रहा है। इधर तीन दिन से बंद लोहाघाट-पिथौरागढ़ हाईवे अभी भी नहीं खुल पाया है। टम्टा बैंड के पास अभी भी मलबे का अंबार लगा है। सड़क खोलने के प्रयास युद्धस्तर पर किए जा रहे हैं। चम्पावत-टनकपुर हाईवे फिलहाल आवागमन के लिए सुचारू है। लेकिन कई स्थानों पर सड़क पर सिल्ट और गाद भरने से वाहनों को निकालना मुश्किल हो रहा है।रविवार की शाम सात बजे तक जिले की 42 ग्रामीण सड़कें मलबा गिरने से बंद हो गई थी। इनमें से 12 सड़कों को सोमवार सुबह 8:30 बजे तक खोल दिया गया था। अन्य सड़कों को खोलने का काम जारी है। बारिश रुकने से मलबा हटाने के काम में तेजी आई है। लोनिवि के ईई एमसी पलडिय़ा ने बताया कि मौसम ठीक रहा तो दोपहर एक बजे तक सभी सड़कों को खोल दिया जाएगा। चम्पावत-टनकपुर हाईवे पर धौन-स्वाला, चल्थी, बेलखेत, सूखीढांग, अमरूबैंड, सिन्याड़ी के पास सड़क पर गाद और सिल्ट जमा होने से कीचड़ हो गई है।

छोटे वाहन नहीं निकल पा रहे हैं। इससे बड़े वाहनों को निकालना भी मुश्किल हो रहा है। एनएच के ईई एलडी मथेला ने बताया कि चम्पावत-टनकपुर हाईवे को रविवार की रात आठ बजे सुचारू कर दिया गया था। बताता कि कुछ स्थानों पर अभी भी पहाड़ी से बोल्डर और छोटे पत्थर गिर रहे हैं। सड़क खुलने के बाद भी रोड पर आवागमन करना खतरनाक है। उन्होंने यात्रियों से अगले कुछ दिनों तक लोहाघाट-देवीधुरा-हल्द्वानी मार्ग से ही यात्रा करने की अपील की है। उन्होंने बताया कि पिथौरागढ़ मार्ग पर टम्टा बैंड के पास आया मलबा हटाया जा रहा है। शेष स्थानों पर सड़क दुरूस्त कर दी गई है। 11 बजे तक मलबा हटाकर इस रोड पर भी आवागमन सुचारू कर दिया जाएगा। बारिश थमने से सोमवार को बाजारों में भी चहल-पहल रही। लोग कोविड के नियमों का पालन करते हुए खरीदारी के लिए पहुंचे। चम्पावत, लोहाघाट, पाटी, बाराकोट में सुबह के समय भीड़-भाड़ रही। रविवार की शाम से लेकर सोमवार की सुबह आठ बजे तक चम्पावत और लोहाघाट में पांच एमएम, पाटी में 10 एमएम और बनबसा में आठ एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई है।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *