आईपीएस अभिनव कुमार को शासन मैं मिली महत्वपूर्ण जिम्मेदारी

अपर प्रमुख सचिव बनाए गए  आईपीएस अभिनव कुमार को मुख्यमंत्री सचिवालय में  गृह विभाग के सभी मामलों को देखने की जिम्मेदारी मिल सकती है। पूर्व में कांग्रेस सरकार में भी अजय रौतेला को भी शासन में अपर सचिव  गृह बनाया गया था। दरअसल त्रिवेंद्र सिंह रावत के मुख़्यमंत्री बनने से पहले सभी बड़े विभागों में शासन स्तर पर प्रमुख सचिव की नियुक्ति की जाती रही है। इन विभागों में गृह, ऊर्जा व चिकित्सा, स्वास्थ्य व परिवार कल्याण प्रमुख रूप से हैं। त्रिवेंद्र सरकार में प्रमुख सचिव गृह व ऊर्जा डॉक्टर उमाकांत पंवार के इस्तीफे के बाद ऊर्जा विभाग राधिका झा को सौप दिया गया तथा उस समय अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश से स्वास्थ्य विभाग हटाकर नितेश झा को   साथ मे गृह विभाग भी दे दिया गया। हैरत की बात यह है कि उस समय ये दोनों अधिकारी प्रभारी  सचिव भी नही थे।

त्रिवेंद्र के चार साल के कार्यकाल में ये दोनों अधिकारी मुख़्यमंत्री सचिवालय में भी सबसे ताकतवर पोजीशन में रहे। कोरोना के पहले चरण में नितेश झा से स्वास्थ्य वापस ले लिया गया था, लेकिन गृह अभी भी उनके पास है जबकि ऊर्जा राधिका झा के पास है। सूत्रों की जानकारी है कि शासन स्तर तक ऊर्जा विभाग में भारी फेरबदल किया जा रहा है। यदि रसूखदार अफसरों के दबाब में धामी सरकार नहीं आई तो बड़े विभागों का जिम्मा अपर मुख्य सचिव या प्रमुख सचिवो को दिया जा सकता है।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *