भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा उत्तराखंड पहुंचे; जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत

उत्तराखंड में सत्तारूढ़ भाजपा आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति पर मुहर लगाने जा रही है। इसके लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा उत्तराखंड पहुंच गए हैं। जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर उनकर भव्य स्वागत हुआ। इसके बाद वे हरिद्वार पहुंचे। यहां नड्डा पार्टी की चुनावी तैयारी का जायजा लेंगे। दो दिन में छह बैठकों व दो कार्यक्रमों के दौरान वह न केवल प्रदेश भाजपा संगठन व सरकार की तैयारियों की थाह लेंगे, बल्कि विभिन्न स्रोत से हासिल फीडबैक के आधार पर जरूरी दिशा-निर्देश भी देंगे। माना जा रहा है कि मंत्रियों और विधायकों की परफार्मेंस रिपोर्ट पर भी इन बैठकों में गहन मंथन किया जाएगा।उत्तराखंड में अब विधानसभा चुनाव को केवल छह-सात महीने का ही वक्त शेष है। उत्तराखंड की चौथी विधानसभा का गठन 21 मार्च 2017 को हुआ था। यानी अगले वर्ष 21 मार्च से पहले पांचवीं विधानसभा अस्तित्व में आ जाएगी। इस लिहाज से देखें तो जनवरी-फरवरी में विधानसभा चुनाव संभावित हैं। चुनाव के लिए काफी कम वक्त बचा है तो भाजपा ने अब अपनी पूरी ताकत झोक दी है। पिछले कुछ महीनों के दौरान सरकार में दो बार नेतृत्व परिवर्तन और संगठन में बदलाव पार्टी की चुनावी रणनीति का ही हिस्सा था।

गत जून में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष प्रदेश भाजपा की चुनावी तैयारी का जायजा ले चुके हैं। अब राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा एक तरह से चुनावी रणनीति पर मुहर लगाने के लिए उत्तराखंड आ रहे हैं। दरअसल, भाजपा के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती अपने पिछले प्रदर्शन को दोहराने की है। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 70 में से 57 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। अब यही प्रदर्शन उत्तराखंड भाजपा के लिए कसौटी बन गया है। यही वजह है कि पार्टी अपनी तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती।सूत्रों के मुताबिक हरिद्वार में दो दिन होने वाली बैठकों में मंत्रियों व विधायकों के साढ़े चार साल के कामकाज का रिपोर्टकार्ड भी उनके समक्ष रखा जाएगा। भाजपा चुनावी राज्यों में लगातार सर्वे करा रही है। इनके जरिये एकत्र जानकारी के आधार पर मंत्रियों व विधायकों के प्रदर्शन का आकलन किया जा रहा है। इसमें उनकी उपलब्धियों के साथ ही खामियों का भी जिक्र होगा। चुनाव से पहले खामियों को दूर करने के लिए जरूरी दिशा निर्देश दिए जाएंगे। कुछ महीनों बाद पार्टी को मिले फीडबैक के आधार पर मौजूदा विधायकों का भविष्य तय होगा।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *