गुरुप’ की पहल, कोविड संक्रमितों की मदद को आगे आये एसडीआरएफ के जवान

पिथौरागढ़ (मुनस्यारी),
कोविड प्रबधंन गुरुप नित नये आयामों के साथ कार्य कर रहा है। गुरुप के पहल के बाद आज बुई से एक कोविड संक्रमित को स्टेचर में पैदल लाने का काम एस.डी.आर.एफ.के जवानों ने किया। एक फोन पर दरांती के कोविड संक्रमित विधवा महिला के तीन नाबालिक बच्चों के लिए राशन किट भेजा गया। मुनस्यारी में कोविड संक्रमितों के इलाज से लेकर उनके घर – परिवार तक की देखभाल की जा रही है।
कोविड नियंत्रण के लिए जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया द्वारा इस गुरुप को बनाया गया। बुई में दो पोजिटिव को होम आइसोलेशन किया गया था। बुई की ग्राम प्रधान लक्ष्मी रलमाल तथा आशा कार्यकत्री पानुली गनघरिया ने बताया कि कोरोना पोजेटिव गोपाल सिंह पुत्र हिम्मत सिंह उम्र 76 वर्ष की हालात बहुत खराब हो गयी है। पीपीई किट के अभाव में कोई भी गांव वाले संक्रमित को इलाज के लिए मुनस्यारी लाने पर सहमत नहीं हो रहे है। तीन किमी पैदल यात्रा के साथ लीलम में वाहन की सुविधा उपलब्ध है।
जिपं सदस्य मर्तोलिया ने मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम, एडीएम, एसडीएम तथा नोडल अधिकारी स्वास्थ को मैसेज किया। एसडीएम अभय प्रताप सिंह तथा नोडल अधिकारी डां चंदोला ने बुई के लिए एस.डी.आर.एफ.के जवानों को रवाना किया।
पीपीई किट में जवानों ने इस कोरोना पोजेटिव को तीन किमी स्टेचर में पैदल अपने कंधों में लाते हुए लीलम सड़क पर पहुंचाया। गोपाल सिंह के कोई बच्चे नहीं है। पत्नी खिमुली देवी को होम आइसोलेशन में रखा गया है।
इस संक्रमित को मुनस्यारी में कोविड अस्पताल में रखा जायेगा।
दरांती की आशा कार्यकत्री कलावती बरफाल का फोन आया कि गांव की विधवा महिला जानकी मेहता कोरोना पोजेटिव आई थी, इनकी हालात खराब होने पर इन्हे टी.आर.सी.में बने कोविड सेन्टर में भर्ती किया गया है। घर में तीन नाबालिक लड़किया है। राशन आदि सामान खत्म हो गया है। दस बजे के बाद सड़क मे वाहन नहीं चलते है। समय की नजाकत को देखते हुए जिपं सदस्य मर्तोलिया ने थानाध्यक्ष हेम चन्द्र पंत को राशन का किट दरांती पहुंचाने का अनुरोध किया। थानाध्यक्ष पंत ने राशन का किट आशा कार्यकत्री के साथ दरांती इन बच्चों के पास पहुंचा दिया।
आज जलथ गांव में 7 लोगों की कोविड रिर्पोट पोजेटिव आई है। सभी को होम आइसोलेशन में रखा गया है।
सीमांत में यह गुरुप कोविड रोकथाम तथा संक्रमितो की सेवा में 24 घंटे लगा हुआ है।
जिपं सदस्य मर्तोलिया ने कहा कि हर गांव पर इस गुरुप के माध्यम से नजर रखना बेहद आसान है। इससे हम कुछ बेहतर कर पा रहे है। पुलिस , प्रशासन तथा स्वास्थ विभाग से अच्छा सहयोग मिल रहा है।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *