कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ने वर्चुअल माध्यम से कोरोना संक्रमण से मृत व्यक्तियों को श्रद्धांजलि अर्पित की

पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने वर्चुअल माध्यम से कोरोना संक्रमण से मृत व्यक्तियों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में पूरा कांग्रेस परिवार मृतकों के स्वजन के साथ है। कोरोना का प्रभाव कम होने के बाद प्रभावित परिवारों से मुलाकात की जाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के क्रूर हाथों ने हमारे कई साथियों को असमय छीन लिया। उन्हाेंने कहा कि मृतकों के परिवारों को आर्थिक सुरक्षा देने की जिम्मेदारी सरकार की है। सरकार को कर्ज लेकर भी व्यक्तियों की जिंदगी बचाने के लिए बजट की व्यवस्था करनी चाहिए। जान है तो जहान है का नारा यहीं पर लागू होता है। उन्होंने प्रदेशवासियों से भी संकट की इस घड़ी में पीड़ित परिवारों की मदद को आगे आने को कहा। श्रद्धांजलि सभा में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी ने कहा कि सरकार की विफलता के कारण कई लोग हमारे बीच नहीं हैं। सरकार को अपनी जिम्मेदारी का अहसास होना चाहिए। कांग्रेस के शासन में मोबाइल मेडिकल वैन की व्यवस्था की गई थी। आज ये संचालित नहीं हो रही है।

सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा कि संकट की इस घड़ी में कांग्रेसजनों से जो बन पड़ा, किया। सरकार को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी चाहिए। वर्चुअल सभा में राजपाल खरोला, जसवीर राणा, रमेश कापड़ी, डा रमेश पांडे, बलवंत सिंह बोरा, बृजेश बिष्ट, नारायण सिंह बिष्ट, विनोद थपलियात समेत कई व्यक्तियों ने विचार रखे। सभा का संचालन कमान सिंह धामी ने किया।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *