प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तराखंड के प्रति विशेष लगाव है;  मुख्यमंत्री धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तराखंड के प्रति विशेष लगाव है। वह हमेशा ही इस विषम भूगोल वाले राज्य के लिए चिंतित रहते हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड आने वाले समय में आर्थिक, सांस्कृतिक व धार्मिक राजधानी के रूप में विश्व पटल पर छाएगा। मुख्यमंत्री रविवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर हाल में भाजपा का दामन थामने वाले कांग्रेस विधायक राजकुमार के साथ पुरोला व उत्तरकाशी क्षेत्र के सौ से ज्यादा कार्यकर्त्‍ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने भारत का मान-सम्मान बढ़ाने के लिए जो कार्य किया, उसका पूरा विश्व अनुसरण कर रहा है। अफगानिस्तान के संकट का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व में हमने प्रत्येक नागरिक को सकुशल स्वदेश लाने का कार्य किया है। यह सामान्य बात नहीं है। प्रधानमंत्री ने देश के नागरिकों के प्रति अपने कर्तव्य को निभाया है, जिससे पिछले 70 सालों में देशवासी वंचित रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के चहुंमुखी विकास में जुटी है। केंद्र का इसमें भरपूर सहयोग मिल रहा है। उन्होंने विधायक राजकुमार का स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस के राजकुमार अब भाजपा के हुए हैं।भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि विधायक राजकुमार और उनके समर्थकों के भाजपा में आने से पार्टी और मजबूत हुई है। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि जिस तरह से पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा सौंपने के बाद जिस तरह कांग्रेस द्वारा किए जा रहे अपमान को बयां किया, वह कांग्रेस के परिवारवाद की पराकाष्ठा को प्रमाणित करता है।पुरोला विधायक राजकुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री धामी के कार्यों से प्रभावित होकर और कांग्रेस के परिवारवाद से त्रस्त होकर वह भाजपा में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य देश-प्रदेश की सेवा करना है। राजनीति इसे पूरा करने का माध्यम है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा यह कार्य कर रही है। संचालन प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने किया।बड़ी संख्या में समर्थकों के साथ प्रदेश भाजपा मुख्यालय पहुंचे विधायक राजकुमार ने कार्यालय की सीढ़ि‍यां चढ़ने से पहले दंडवत प्रणाम किया। इसके बाद ही वह कार्यालय के भीतर गए।

 

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *