कुंभ मेला क्षेत्र में पर्यावरण संरक्षण आख्या देते हुए पुलिसकर्मी साइकिल पर

कुंभ मेला क्षेत्र में साइकिल पर गश्त करने के साथ ही कुंभ पुलिस पर्यावरण संरक्षण का संदेश भी देगी। सिर्फ कांस्टेबल ही नहीं, बल्कि आइपीएस, पीपीएस से लेकर निरीक्षक, एसआइ स्तर के अधिकारी भी साइकिल चलाएंगे। इससे कुंभ में आने वाले श्रद्धालु वापस लौटकर साइकिल को अपनी रोजमर्रा की दिनचर्या में शामिल करने के लिए प्रेरित होंगे। हरिद्वार की एक औद्योगिक इकाई ने कुंभ पुलिस को दो सौ साइकिल भेंट की है। कुंभ पुलिस कुछ साइकिल अपने बजट से भी खरीदेगी।

मौजूदा समय में पर्यावरण बड़ा मुद्दा है। पर्यावरण के लिहाज से इस वक्त कई बड़ी चुनौतियां सामने खड़ी है। लेकिन, आमजन अभी भी पर्यावरण को लेकर अधिक जागरूक नहीं है। कुंभ पुलिस ने पर्यावरण संरक्षण को लेकर यह नई पहल करने जा रही है। कुंभ मेला ड्यूटी को पहुंचे पुलिस अधिकारियों, कुंभ पुलिस कार्यालय, पुलिस लाइन से लेकर थानों में तैनात जवानों को साइकिल उपलब्ध कराई जाएगी। वह साइकिल से अपने-अपने क्षेत्र में गश्त करेंगे और रोजमर्रा के कामकाज भी साइकिल की सवारी कर निपटाएंगे। साइकिल के अलावा पुलिसकर्मियों का  हेलमेट व साइकलिंग के दौरान सुरक्षा के लिहाज से पहने जाने वाले अन्य जरूरी  सामान भी दिया जाएगा।

आइजी कुंभ मेला संजय गुंज्याल ने भी अपने लिए एक साइकिल आरक्षित की है। उन्होंने बताया कि वह खुद भी जब समय मिलेगा, तब श्रद्धालुओं को साइकिलिंग के लिए प्रोत्साहित करेंगे। कुंभ मेले के बाद भी पुलिसकर्मियों से अपील की जाएगी कि वह अपने रोजमर्रा के छोटे-छोटे कामकाज साइकिल पर ही खत्म करें। जिससे की पर्यावरण संरक्षण में उत्तराखंड पुलिस अपना योगदान दें सकें। संजय गुंज्याल (आइजी कुंभ मेला, हरिद्वार) ने कहा कि ईको फ्रेंडली कुंभ में साइकिलिंग को बढ़ावा देकर कुंभ पुलिस अपना योगदान देगी। साइकिल से जहां स्वास्थ्य बेहतर रहेगा, वहीं पर्यावरण संरक्षण में भी पुलिसकर्मी अग्रणी भूमिका निभाएंगे। आमजन भी पुलिस से प्रेरित होंगे, जिससे वे भी साइकिल को अपने जीवन का हिस्सा बनाने की पहल करेंगे।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *