हकीकत जानने के लिए स्वयं सड़क पर उतरे देहरादून के डीएम

जिलाधिकारी देहरादून डा आशीष श्रीवास्तव व्यवस्थाओं को लेकर सक्रिय हैं। वह सड़क पर उतरे, गली मोहल्लों में गए। और जहां जरूरी हुआ वहां मौके पर ही सुधार के निर्देश दिए। पथरी बाग स्थित पानी की टंकी के पास में खुले गड्ढडे दिखे। जिनमें कुछ में पानी भरा था। वह तत्काल बंद कराए गए। कहा कि कोई भी गढ़डा खुला नहीं होना चाहिए। उन्होंने उपजिलाधिकारी सदर को जल संस्थान द्वारा खुले गड्ढों के सम्बन्ध में की जाने वाली सुधारात्मक कार्रवाई का निरीक्षण करते हुए उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

शहर में जहां पर भी निर्माण कार्य के दौरान अथवा किसी भी तरह के ऐसे खुले गड्ढे पाए जाते हैं, जिनमें पानी के भरने और रुकने की संभावना रहती है, को तत्काल भरा जाए और इस संबंध में उपजिलाधिकारी सदर को निर्देशित किया कि जहां जहां पर शहरों में जल संस्थान और जल निगम द्वारा खुले गड्ढे अथवा जलभराव स्थानों में सुधारात्मक कार्रवाई की जाती है, उसको मौके पर जाकर देख लें और चेक कर लें।

जिलाधिकारी ने नगर निगम को निर्देशित किया कि पथरी बाग क्षेत्र में स्थित आबादी के साथ-साथ नगर निगम के सभी क्षेत्रों में घर-घर जाकर लोगों के कूलर गमले आस पड़ोस में सामान टूटे-फूटे गमले को चेक कर ले, कहीं पर भी पानी ना रुका हो और ऐसा ना हो, जिससे मच्छरों के पनपने की संभावना बनी रहती है। स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया कि वे घर-घर जाकर दवाई का छिड़काव भी करवाएं और लोगों को साफ-सफाई और पानी निकासी के लिए जागरुक भी करें।

About Surkanda Samachar

View all posts by Surkanda Samachar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *